X

प्रतिभा पलायन पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण । 600 Words Essay speech on Brain Drain  in Hindi

प्रतिभा पलायन पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण – 600 Words Essay speech on Brain Drain  in Hindi

प्रतिभा पलायन से जुड़े निबंध जैसे महंगाई पर  600 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  600 Words Essay speech on Brain Drain  in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

600 Words Essay Speech on Brain Drain in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

प्रतिभा पलायन भारत की एक ऐसी गंभीर समस्या है, जो क्षतिकारक और शर्मनाक दोनों ही है। हमारे देश की बेजोड़ प्रतिभाएं दूसरे देश के लिए लाभकारी। हो जाती हैं, जबकि हम अपने यहां उन प्रतिभाओं को तैयार करके भी सही। समय पर उनका लाभ नहीं ले पाते हैं। हम अपनी प्रतिभाओं का प्रतिपालन एवं संरक्षण सही ढंग से नहीं कर पाते और दोयम दर्ज की प्रतिभाओं से ही संतोष करते हैं। एक सर्वेक्षण के अनुसार प्रतिवर्ष भारत से लगभग 10,000 प्रतिभाएं रोजगार के लिए विदेश चली जाती हैं।

इन प्रतिभाओं का मूल्यांकन न किए जाने के कारण देश के होनहार छात्र यह सोचते हैं कि पढ़ाई-लिखाई समाप्त करने के बाद यहां हमारे लिए गुंजाइश नहीं है। उदाहरण के लिए आई.आई.टी. से तैयार होकर निकले छात्रों में से 25 प्रतिशत छात्र विकसित देशों में प्रवासी जीवन बिताते हैं। अपने देश से चिकित्सा, इंजीनियरिंग, कंप्यूटर आदि क्षेत्रों में काफी मात्रा में प्रतिभा पलायन है। उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार भारत से 40 प्रतिशत इंजीनियर, 18 प्रतिशत चिकित्सक और 20 प्रतिशत वैज्ञानिक विदेशों की सेवा करते हैं। सबसे अधिक संख्या में सूचना प्रौद्योगिकी से जुड़े लोग विदेश जाते हैं।

600 Words Essay speech on Brain Drain

विदेश जाना, वहां शिक्षा ग्रहण करना तथा विदेशों में भ्रमण या अस्थायी प्रवास करना बुरा नहीं है। बुरा यह है कि हमारे यहां के प्रतिभा संपन्न लोग विदेशों की नागरिकता हासिल करके वहां जीवन व्यतीत करते हैं, वहीं की संस्कृति में रम जाते हैं और भारतीय मूल के प्रवासी कहलाने में गर्व अनुभव करते हैं। हमारे देश के अनेक महापुरुषों ने विदेशों में शिक्षा ग्रहण की, परंतु उनमें देशानुराग की भावना कम नहीं हुई। विदेश से लौटने पर उनके विचारों में उदासीनता नहीं आई। उनमें देशभक्ति की भावना शाश्वत रही।

अपने देश के प्रतिभा संपन्न नौजवान अपने उमंग, निष्ठा तथा कर्तव्य पालन की भावना से दूसरे देश का कल्याण सिर्फ इसलिए करें कि अधिक धनोपार्जन हो सके-यह अपने देश के लिए शुभ संकेत नहीं है, लेकिन डॉलर और पाउंड का आकर्षण उन्हें विदेश में खींच ले जाता है। यह भी सच है कि भारत में प्रतिभाओं को नौकरी के अभाव में सड़कों पर धूल छानते देखा जा सकता है। इसके लिए यहां के करोड़ों पढ़े-लिखे नौजवानों की बेरोजगारी पूर्णतः जिम्मेदार है। इन प्रतिभाओं से लाभान्वित होने वाले देश भारतीय अप्रवासियों के उद्देश्य से भली-भांति अवगत होते हैं। ऐसे में उनकी आब्रजन नीति से भी प्रतिभा पलायन को काफी बढ़ावा मिलता है।

वस्तुतः प्रतिभाशाली व्यक्तियों के लिए भारत में अपेक्षित सुविधाएं नहीं हैं। उन्हें वित्तीय सहायता भी सही ढंग से नहीं मिल पाती। शिक्षा के माध्यम से देश भक्ति की भावना का उदय नहीं हो पाता। अस्तु नौजवानों का दिग्भ्रमित होना आश्चर्यजनक नहीं है। भारतीयों की हीन भावना और अपनी संस्कृति से विमुखता भी विदेश पलायन के महत्वपूर्ण कारण हैं। अतः सरकार को ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए, ताकि भारतीयों की हीन भावना समाप्त हो और अपनी संस्कृति के प्रति उनमें आकर्षण बढ़े।

प्रतिभा पलायन पर अनमोल वचन – Best Quotes on Brain Drain

प्रतिभा एक प्रतिशत दैवी प्रेरणा तथा निन्यानवे प्रतिशत कठोर श्रम से होती हैंI

प्रतिभा का अर्थ केवल कठिन श्रम करने कि असीम क्षमता हैंI

भारत में आध्यात्मिक जीवन ही प्रतिभा हैंI

एक जीनियस इन्सान वही पर जीवन जी सकता है जहाँ उसकी स्वतंत्रता पर कोई बंधन न होI

प्रतिभा का स्थानान्तरण पीढ़ी दर पीढ़ी नही होता है बल्कि ये तो मानसिकता के द्वारा बढती हैंI

मूर्खता और प्रतिभा में सबसे बड़ा फर्क यह है कि जीनियस की एक सीमा होती है मूर्ख की नहीI

 प्रतिभावान होने का अर्थ है बीज में चीज को भाप लेनाI

धैर्य के प्रति महान स्वाभाविक रूचि के अतिरिक्त प्रतिभा कुछ नही हैंI

जब कोई वास्तविक सच्चा प्रतिभा इस दुनियां में प्रकट होगी, तो तुम उसकी पहचान इस लक्ष्ण द्वारा कर सकोगे कि समस्त मूर्ख व्यक्ति संघ रूप से उसके विरुद्ध हो जाते हैंI

Best Quotes on Brain Drain

यह भी पढ़ें :-

विज्ञान के चमत्कार (Vigyan Ke Chamatkaar) पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण

पर्यावरण प्रदूषण पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण 

महंगाई पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण

जनसंख्या नियंत्रण पर 600 शब्दों में निबंध, भाषण 

मै आशा करती हूँ कि  महंगाई पर लिखा यह निबंध ( प्रतिभा पलायन पर  600 शब्दों में  निबंध,भाषण । 600 Words Essay speech on Brain Drain  in Hindi) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा (Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.