X

स्वास्थ्य का महत्व पर  600-700 शब्दों में  निबंध, भाषण । 600-700 Words Essay speech on Importance Of Health in Hindi

स्वास्थ्य का महत्व पर  600-700 शब्दों में  निबंध, भाषण – 600-700 Words Essay speech on Importance Of Health in Hindi

स्वास्थ्य का महत्व से जुड़े छोटे निबंध जैसे स्वास्थ्य का महत्व पर  600-700 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  600-700 Words Essay speech on Importance Of Health in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

600-700 Words Essay Speech on Importance Of Health in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

उपनिषदों में एक अत्यंत सुंदर रूपक है, “शरीर रथ है, बुद्धि सारथी है, इंद्रियां घोड़े हैं और जीवात्मा इसका रथी है, जो मोक्ष रूपी लक्ष्य की ओर बढ़ रहा है।” इस दृष्टि से लक्ष्य प्राप्ति का प्रमुख साधन है यह शरीर

साधन धाम मोक्ष कर द्वारा।

पाइ न जेहि परलोक सुधारा॥

ऐसी स्थिति में स्वास्थ्य की-तन-मन के स्वस्थ रहने की उपयोगिता है। इसीलिए विभिन्न शास्त्रों में स्वास्थ्य के बारे में लिखा है-

धर्मार्थकाममोक्षाणां आरोग्यं मूलमुत्तमम् ।

शरीरमाद्यं खलु धर्मसाधनम् ।

उपरोक्त श्लोकों से स्पष्ट है कि धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष साधन ही मानव-जीवन का मूल उद्देश्य है, जिसे मानव स्वस्थ रहकर ही प्राप्त कर सकता है। एक अस्वस्थ व्यक्ति न तो अपना बोझ उठा सकता है और न ही देश का। उसे तो अपना ही जीवन भार स्वरूप लगता है। अस्वस्थ व्यक्ति को छप्पन भोगों से पूर्ण थाली कारतूस की गोली के समान लगती है एवं कश्मीर की वादियों की मनोरम छटा श्मशान सी लगती है। ऐसे मनुष्य को संगीत की मधुर लहरी कर्ण कटु लगती है। पृथ्वी जो वास्तव में स्वर्ग है, उसके लिए नरक बन जाती है। इसीलिए कहा गया है- वीर भोग्या वसुंधरा ।

एक सेठ के लिए ये सभी साधन व्यर्थ हैं। वह न तो रसगुल्ले की मिठास का आनंद ले सकता है और न ही गरम पकौड़ियों का चटपटा स्वाद चख सकता है। दूसरी ओर गरीब आदमी अपने मजबूत शरीर से मेहनत करके दो समय की रोटी और इज्जत कमा सकते हैं। अतः हम यह कह सकते हैं कि स्वास्थ्य अमीरों के लिए वरदान और गरीबों के लिए संपत्ति है।

सामान्य भाषा में लोग कहते हैं-स्वास्थ्य ही धन है I लेकिन विद्वानों के अनुसार स्वास्थ्य का महत्व धन से भी ज्यादा है। धन श्रेष्ठ है, विद्यार और स्वास्थ्य श्रेष्ठतम है। विद्या के बिना धन विधुर है और स्वास्थ्य के बिना पर एवं विद्या दोनों ही निष्क्रिय हैं। अतएव हमें हर कीमत पर अपने स्वास्थ्य को रक्षा करनी चाहिए। अब प्रश्न उठता है कि इस अमूल्य संपत्ति की रक्षा कैसे करें ? इस संबंध में किसी पाश्चात्य चिंतक का विचार है

Early to bed and early to rise,

Makes a man healthy, wealthy and wise.

अर्थात जल्दी सोने और जल्दी जागने से मनुष्य स्वस्थ, संपन्न एवं बुद्धिमान बनता है। इसके अतिरिक्त मनुष्य को स्वास्थ्य की रक्षा हेतु अपने भोजन तथा रहन-सहन पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए।

भोजन सादा एवं पौष्टिक होना चाहिए। गांधी जी अपनी आत्मकथा में लिखते हैं, “जो जीभ के स्वाद में पड़ा, उसका स्वास्थ्य अवश्य नष्ट हुआ।” स्वास्थ्य का व्यायाम के साथ भी गहरा संबंध है। व्यायाम स्वास्थ्य की कुंजी है। अतः व्यायाम को हमें अपने दैनिक जीवन का एक अंग बना लेना चाहिए। प्रातः भ्रमण को सबसे अच्छा व्यायाम माना गया है। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के खेल खेलने से भी शरीर स्वस्थ एवं सुगठित होता है।

600-700 Words Essay Speech on Importance Of Health

स्वास्थ्य पर अनमोल विचार- Quotes on Health

– बिना स्वास्थ्य जीवन, जीवन नहीं होता, बल्कि यह  दुखों और आलस्य की अवस्था होती है। – अल्बर्ट आइंस्टीन

– आपका स्वास्थ्य आपकी सबसे बड़ी सम्पति है, इसका अहसास तब होता है जब हम इसे खो देते हैं। – जोश बिलिंग्स

– आपका अपना शरीर ही सबसे बड़ी सम्पति है। –

– स्वस्थ होना हमारे लिए सबसे बड़ा उपहार हैं। स्वास्थ ही सबसे बड़ी सम्पति है और सबसे अच्छा रिश्ता है। – गौतम बुद्ध

– जिसके पास स्वस्थ शरीर होता है, वह कइयों से कई गुना अमीर होता है। –

– अच्छा स्वास्थ्य आतंरिक शक्ति, शांत मन और आत्मविश्वाश लाता हैं, जो की बहुत मत्वपूर्ण है। – दलाई लामा अनमोल विचार

– अच्छा स्वास्थ्य और अच्छी समझदारी जीवन के दो सबसे बड़े आशीर्वाद हैं। – पब्लिकलीस साइरस

– किसी के परिवार में सच्ची खुशी लाने के लिए, एक शांत मन पाने के लिए सबसे पहले  खुद को अनुशासित करना चाहिए और अपने मन को नियंत्रित करना होगा। यदि मनुष्य अपने मन को नियंत्रित कर सकता है तो वह आत्मज्ञान का मार्ग खोज सकता है, और सभी ज्ञान और गुण स्वाभाविक रूप से उसके पास आएंगे और यह सब तभी सम्भव है जब आपमें पास एक स्वस्थ शरीर है। – गौतम बुद्ध

– अपने शरीर को स्वस्थ रखना हमारा कर्तव्य है, अन्यथा हम अपने दिमाग को मजबूत और स्पष्ट नहीं रख पाएंगे। – गौतम बुद्ध अनमोल विचार

– जीने के लिए खाओ, खाने के लिए न जियो। – सुकरात अनमोल विचार

– आरोग्य रहना हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है। – बाबा रामदेव अनमोल विचार

– जीवन में सबसे महत्वपूर्ण चीजें हैं स्वास्थ्य, परिवार, दोस्त और इन पर खर्च करने वाला समय। और मैं इन चीज़ो के लिए आभारी हूँ। –

– हर मनुष्य अपना स्वास्थ खुद ही लिखता है। – गौतम बुद्ध

– हमारा शरीर एक बगीचे की तरह है और हमारी इच्छाएं बागवान की तरह। – विलियम शेक्सपियर

– रोकथाम इलाज से बेहतर है। – डेसिडरियस इरास्मस

– जो व्यक्ति अपनी जीभ पर काबू नहीं पा सकता वो शायद ही अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखे। – अज्ञात

– अच्छे स्वास्थ्य की चमक का आनंद लेने के लिए, आपको व्यायाम करना चाहिए। – जीन ट्यूनी

– जो रखते है सदैव अपने स्वास्थ्य का ध्यान, तो बनते है महान। –

– बीमारी आने तक स्वास्थ्य का महत्व नहीं है। – थॉमस फुलर

– अपने शरीर की देखभाल करो. यही वह जगह है जहाँ तुम्हे रहना है। – जिम रोहन

– यदि आप खुश हैं, और अच्छा महसूस कर रहे हैं, तो कुछ और मायने नहीं रखता। – रॉबिन राइट

– आज सबसे बड़ी बीमारी कुष्ठ और तपेदिक नहीं है, बल्कि अवांछित होने की भावना है। – मदर टेरेसा

– तनाव बहार के ट्रैफिक, शोर, आपके बॉस, आपके बच्चों, आपके पति या पत्नी, स्वास्थ्य चुनौतियों या अन्य परिस्थितियों से नहीं आता है। यह इन परिस्थितियों के बारे में आपके विचारों से आता है। – एंड्रयू जे बर्नस्टीन

– हमारे अच्छे स्वास्थ्य से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ भी नहीं – यह हमारी प्रमुख पूंजीगत संपत्ति है। – अर्लेन स्पेक्टर

– अच्छे स्वास्थ्य को हम खरीद नहीं सकते पर यह एक अत्यंत मूल्यवान बचत खाता हो सकता है। – ऐनी विल्सन शेफ़

– स्वास्थ्य आपके और आपके शरीर के बीच का संबंध है। –

– स्वास्थ्य एक बड़ा शब्द है। यह केवल शरीर को ही नहीं बल्कि मन और आत्मा दोनों को गले लगता है। – जेम्स एच. वेस्ट

– बिस्तर से जल्दी उठना और जल्दी सोना मनुष्य को स्वस्थ, धनवान और बुद्धिमान बनाता है। – बेंजामिन फ्रैंकलिन

– मैंने खुश रहना इसलिए चुना है क्योंकि यह मेरे स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। – वॉल्टेयर

– रोज़ एक सेव खाओ, डॉक्टर से दूरी बनाओ-

– आवश्क्यता से कम भोजन करना ही स्वास्थ्य प्रदान करता है। – चाणक्य

– अगर आप अपने शरीर की देखभाल नहीं करते हैं, तो आप जिन्दा कहाँ रहेंगे। – अनमोल विचार

– अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने का एकमात्र तरीका यह है कि आप जो चाहते हैं वह न खाएं, आप जो पसंद करते हैं उसे पीएं, और वही करें जो आप नहीं चाहते हैं। मार्क ट्वेन

– समय और स्वास्थ्य दो अनमोल संपत्ति हैं , जिनकी वैल्यू हम तब समझते हैं जब वो नहीं रहती। – डेनिस वेटली

– दुनिया का सम्पूर्ण धन खर्च करके  के भी आप अपना अच्छा स्वास्थ्य – वापस नहीं प्राप्त कर सकते। – रेबा मकएंटीरे

– स्वास्थ्य ही है जो वास्तविक धन है, सोने और चांदी के टुकड़े नहीं हैं। – महात्मा गांधी

– मानव शरीर मानव आत्मा का सबसे अच्छा चित्र है। – टोनी रॉबिंस

– खाना खाने के तुरंत बाद कभी नहीं सोना चाहिए इससे फिटनेस बिगड़ती  है। – स्वामी रामदेव

– युवा आगे आएं, स्वस्थ रहें और देश का नेतृत्व करें। – स्वामी रामदेव

– एक देश तभी स्वस्थ हो सकता है जब उसके लोग स्वस्थ हों। – स्वामी रामदेव

– जिंदगी जीने में और स्वस्थ ज़िन्दगी जीने में बहुत फर्क होता है। – अनमोल विचार

– बिमारी की कड़वाहट से मनुष्य स्वास्थ्य का महत्त्व जान लेता है।  – प्रोवर्ब 

– देखभाल के अलावा इससे ज्यादा कुछ भी स्वास्थ्य के लिए घातक नहीं है। – बेंजामिन फ्रैंकलिन

– स्वास्थ्य और बुद्धि जीवन के दो आशीर्वाद हैं। – मेनांडर

– स्वास्थ्य ही पर्याप्त धन है। – लैलाह गिफ्टी अकिता

– अपने शरीर को अपना पवित्र मंदिर बनने दो। – लैलाह गिफ्टी अकिता

– अधिकांश लोगों को यह नहीं पता है कि उनके शरीर को महसूस करने के लिए कितना अच्छा डिज़ाइन किया गया है। – केविन ट्रूडो

– आपका शरीर कभी ठीक नहीं हो सकता जब तक वो पूरी तरह से ठीक न हो।

– जब दिल सहज होता है, तो शरीर स्वस्थ होता है। – एक चीनी कहावत

– साधारण भोजन और चिंतामुक्त मन स्वास्थ्य की निशानी हैं। – अज्ञात

– नींद वह सुनहरी श्रृंखला है जो स्वास्थ्य और हमारे शरीर को एक साथ जोड़ती है। – थॉमस डेकर

स्वास्थ्य पर अनमोल विचार- Quotes on Health

FAQ

स्वस्थ रहने के 4 नियम क्या है?

स्वस्थ रहने के 4 नियम इस प्रकार है-

1-रोज सुबह उठने के बाद आपको सबसे पहले एक से दो गिलास गुनगुना पानी पीना चाहिए। यह शरीर से टॉक्सिक पदार्थ को निकालने और पेट को साफ करने के लिए बहुत जरूरी होता है।
2-प्रतिदिन एक्सरसाइज या फिर योग का अभ्यास जरूर करें। यह आपको कई गंभीर बीमारियों के खतरे से बचाए रखेगा।
3-खाना खाने के दौरान कभी भी पानी ना पिएं। इससे पाचन क्रिया पर भी विपरीत प्रभाव पड़ता है और आप भरपेट खाना भी नहीं खा सकते हैं। खाना खाने के हमेशा आधे घंटे बाद ही पानी पिएं।
4-रात में सोते समय अपने आसपास मोबाइल फोन ना रखें। इसमें कनेक्ट होने वाली रेडियो एक्टिव किरणें आपके दिमाग को सोते समय नुकसान पहुंचा सकती हैं।

स्वास्थ्य की-तन-मन के स्वस्थ रहने की उपयोगिता क्या है ?

विभिन्न शास्त्रों में स्वास्थ्य के बारे में लिखा है
धर्मार्थकाममोक्षाणां आरोग्यं मूलमुत्तमम् ।
शरीरमाद्यं खलु धर्मसाधनम् ।
उपरोक्त श्लोकों से स्पष्ट है कि धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष साधन ही मानव-जीवन का मूल उद्देश्य है, जिसे मानव स्वस्थ रहकर ही प्राप्त कर सकता है। एक अस्वस्थ व्यक्ति न तो अपना बोझ उठा सकता है और न ही देश का। उसे तो अपना ही जीवन भार स्वरूप लगता है।

क्या स्वास्थ्य का महत्व धन से भी ज्यादा है?

धन श्रेष्ठ है, विद्यार और स्वास्थ्य श्रेष्ठतम है। विद्या के बिना धन विधुर है और स्वास्थ्य के बिना पर एवं विद्या दोनों ही निष्क्रिय हैं।

स्वास्थ्य रहने के लिये कैसा भोजन करना चाहिये ?

भोजन सादा एवं पौष्टिक होना चाहिए। गांधी जी अपनी आत्मकथा में लिखते हैं, “जो जीभ के स्वाद में पड़ा, उसका स्वास्थ्य अवश्य नष्ट हुआ।”

यह भी पढ़ें :-

सदाचार पर  600-700 शब्दों में  निबंध, भाषण

अनुशासन पर  600-700 शब्दों में निबंध, भाषण

Top 10 Role Models

परोपकार पर  600-700 शब्दों में  निबंध, भाषण

मै आशा करती हूँ कि  स्वास्थ्य का महत्व पर लिखा यह निबंध ( स्वास्थ्य का महत्व पर  600-700 शब्दों में  निबंध,भाषण । 600-700 Words Essay speech on Importance Of Health in Hindi) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा (Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.