X

मेरा प्रिय मौसम वर्षा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण । 200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season in Hindi

मेरा प्रिय मौसम वर्षा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण – 200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season in Hindi

मेरा प्रिय मौसम वर्षा से जुड़े छोटे निबंध जैसे मेरा प्रिय मौसम वर्षा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on Rain My Favorite Season in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

भारत में वर्षा एक बेहद ही महत्त्वपूर्ण ऋतु है। वर्षा ऋतु आषाढ़, श्रावण भादो मास में मुख्य रूप से होती है। अंग्रेजी महीने के हिसाब से, जून तथा माह से शुरू होने वाली वर्षा ऋतु हमें अप्रैल और मई की भीषण गर्मी से राहत दिलाती है। यह मौसम भारतीय किसानों के लिए बेहद ही हितकारी एवं महत्त्वपूर्ण है।

प्रकृति के नियमों के अनुसार हवाएं हमेशा उच्च वायुदाब से कम वायुदाब वाले इलाके की ओर चलती हैं। गर्मी के दिनों में भारत के उत्तरी मैदान और प्रायद्वीप पठार भीषण गर्मी से तपते हैं और यह निम्न वायुदाब का क्षेत्र बन जाता है। इसके उलट दक्षिण में हिंद महासागर ठंडा रहता है।

ऐसी भीषण गर्मी के कारण ही महासागर से नमी लेकर हवाएं भारत के दक्षिणी तट से देश में प्रवेश करती हैं और वर्षा का निमित्ति बनती हैं। वर्षा ऋतु में आकाश पर काली घटाएं हर समय छाई रहती हैं। नदी, नाले में और तालाब सब पानी से भर जाते हैं। ऐसा प्रतीत होता है, मानो सूखी धरती के भाग्य का उदय हो गया हो। भूमि हरे वस्त्र पहन लेती है।

इस मौसम में जंगल में मंगल हो जाता है। पक्षी प्रसन्न होकर आकाश पर मंडराते हैं। कोकिला राग अलापती है। मेंढ़क टर्राते हैं। सांप बिच्छू, कीड़े-मकोड़े भी बड़ी संख्या में अपने बिलों को छोड़कर वर्षा का आनंद लेने के लिए बाहर निकल आते हैं। प्राचीन काल में, जब यातायात की सुविधाएं आज की तरह उपलब्ध नहीं थीं, तो लोग व्यापार आदि के लिए इस ऋतु में बाहर नहीं जाते थे।

इसलिए घर, गांव का माहौल खाने-पीने का होता था। जगह-जगह चौपालों पर धार्मिक आयोजन किए जाते थे। आज भी वर्षा के समय पर, जहां वर्षा ज्यादा होती है. सारा काम-काज ठप्प हो जाता है। शहरों में तो नहीं, गांवों में वह परंपरा आज भी देखने को मिलती है। इस ऋतु में पूरा गांव एक-दूसरे के नजदीक आता है। और मिल-जुलकर मौजमस्ती तथा धार्मिक आयोजनों का आनंद लेते हैं।

यह भी पढ़ें :-

जल ही जीवन है पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण – 200-300 Words Essay speech on Water is Life in Hindi
मेट्रो में मेरा पहला सफर पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण । 200-300 Words Essay speech on My First Ride in Metro in Hindi
पुस्तकालय पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण । 200-300 Words Essay speech on Library in Hindi
भारतीय संस्कृति पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण – 200-300 Words Essay speech on Indian Culture in Hindi

200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season in English

200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season

Rain is a very important season in India. The rainy season mainly occurs in the month of Ashadh, Shravan, and Bhado. According to the English month, the rainy season starting from June gives us relief from the scorching heat of April and May. This season is very beneficial and important for Indian farmers.

According to the laws of nature, winds always move from a high-pressure areas to low-pressure areas. During the summer, the northern plains and peninsular plateau of India are heated by extreme heat and it becomes an area of ​​low air pressure. In contrast, the Indian Ocean remains cold in the south.

Due to such scorching heat, winds carrying moisture from the ocean enter the country from the southern coast of India and become the source of rain. In the rainy season, black clouds are present in the sky all the time. Rivers, streams, and ponds are all filled with water. It seems as if the fate of the dry earth has risen. Bhumi wears green clothes.

In this season there is Mars in the forest. Birds soar happily in the sky. Nightingale chants rage. Frogs chirp. Snakes, scorpions, insects, and insects also leave their burrows in large numbers and come out to enjoy the rain. In ancient times, when transport facilities were not available like today
So people did not go out in this season for business etc.

Therefore, the atmosphere of the house and village was for food and drink. Religious events were held at the chaupals(Panchayat) at various places. Even today at the time of rain, where there is more rainfall. All work comes to a standstill. Not only in the cities, but in the villages, that tradition is still seen today. In this season the whole village comes close to each other. And enjoy fun and religious events together.


मै आशा करती हूँ कि  मेरा प्रिय मौसम वर्षा पर लिखा यह निबंध ( मेरा प्रिय मौसम वर्षा  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Rain My Favorite Season in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.