X

राष्ट्रीय एकता और अखंडता पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity in Hindi

राष्ट्रीय एकता और अखंडता पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity in Hindi

राष्ट्रीय एकता और अखंडता से जुड़े छोटे निबंध जैसे राष्ट्रीय एकता और अखंडता पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on National Unity and Integrity in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

हमारा देश विभिन्न संस्कृतियों का देश है, जिसकी समूचे विश्व में अपनी एक अलग पहचान है। अलग-अलग संस्कृतियों और भाषाओं के होते हुए भी हम सभी एक सूत्र में पिरोए हुए हैं तथा राष्ट्र की एकता व अखंडता को बनाए रखने के लिए सदैव तत्पर हैं।

राष्ट्रीय एकता का अर्थ है. राष्ट्र के सब घटकों में भिन्न-भिन्न विचारों और विभिन्न आस्थाओं के होते हुए भी आपसी प्रेम, एकता और भाईचारे की भावना का बना रहना। राष्ट्रीय एकता में केवल शारीरिक समीपता ही महत्त्वपूर्ण नहीं होती, बल्कि उसमें मानसिक, बौद्धिक, वैचारिक और भावात्मक निकटता की समानता भी आवश्यक है। एकता का अर्थ यह नहीं होता कि किसी विषय पर मतभेद ही न हो। एकता की भावना हो, तो मतभेद होने के बावजूद जो सुखद और सबके हित में है, उसे एक रूप में सभी स्वीकार कर लेते हैं। इस प्रकार राष्ट्रीय एकता से अभिप्राय है, सभी नागरिक राष्ट्र प्रेम से ओत-प्रोत हो, सभी नागरिक पहले भारतीय हों. फिर हिंदू, मुसलमान या किसी अन्य धर्म-संप्रदाय को मानने वाले।

भारत विभिन्न संस्कृतियों, धर्मों और संप्रदायों का संगम स्थल है। यहां सभी धर्मों और संप्रदायों को बराबर का दर्जा मिला हुआ है। हिंदू धर्म के अलावा जैन, बौद्ध और सिख धर्म का उद्भव यहीं हुआ है। इसीलिए अनेकता के बावजूद उनमें एकता है। समय-समय पर ये भाव स्पष्ट रूप से दिखाई भी देते हैं। सर्वोच्च मानव-मूल्यों के रूप में हम सत्य और अहिंसा का आदर करते हैं।

हमारे मूल्य गहराई से अपनी जड़ों से जुड़े हुए हैं, जिन पर हमारे ऋषि मुनियों और विचारकों ने बल दिया है। हमारे इन मूल्यों को सभी धर्मग्रंथों में स्थान मिला है-कुरान हो या बाइबिल, गुरुग्रंथ साहिब हो या गीता-हजरत मोहम्मद ईसा मसीह, गुरुनानक, बुद्ध और महावीर आदि सभी ने मानव मात्र की एकता, सार्वभौमिकता और शांति पर जोर दिया है।

यह भी पढ़ें

भारत का राष्ट्रीय प्रतीक पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Emblem of India in Hindi
राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in Hindi
राष्ट्र गीत वंदे मातरम् पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Song Vande Mataram of India in Hindi

200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity in English

200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity

Our country is a country of different cultures, which has its own identity in the whole world. Despite having different cultures and languages, we are all united and are always ready to maintain the unity and integrity of the nation.

Meaning of national unity. To maintain the spirit of mutual love, unity, and brotherhood in all the constituents of the nation, despite having different views and different beliefs. In national unity, not only physical proximity is important, but it also requires equality of mental, intellectual, ideological, and emotional closeness. Unity does not mean that there is no difference of opinion on any subject. If there is a sense of unity, then despite the differences, what is pleasant and in the interest of all, accepts it as one. In this way, national unity means, all citizens should be full of patriotism, all citizens should be Indians first. Then the followers of Hindu, Muslim or any other religion-sect.

India is the confluence of various cultures, religions, and sects. Here all religions and sects have got equal status. Apart from Hinduism, Jainism, Buddhism, and Sikhism have originated here. That is why in spite of their diversity there is unity among them. These expressions are also clearly visible from time to time. We respect truth and non-violence as the highest human values.

Our values ​​are deeply rooted in our roots, emphasized by our sages and thinkers. These values ​​of ours have found a place in all the scriptures – be it Quran or Bible, Guru Granth Sahib or Gita – Hazrat Mohammad Jesus Christ, Guru Nanak, Buddha, and Mahavir, etc. have all emphasized the unity, universality, and peace of mankind.


मै आशा करती हूँ कि  राष्ट्रीय एकता और अखंडता पर लिखा यह निबंध ( राष्ट्रीय एकता और अखंडता   पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on National Unity and Integrity in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.