X

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in Hindi

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in Hindi

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा से जुड़े छोटे निबंध जैसे राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on National Flag Tiranga in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

प्रत्येक स्वतंत्र राष्ट्र का अपना एक ध्वज होता है। यह उसके स्वतंत्र देश होने का संकेत है। भारतीय राष्ट्रीय ध्वज की अभिकल्पना पिंगली वैकैयानंद ने की थी तथा इसके वर्तमान स्वरूप को 22 जुलाई, 1947 को आयोजित भारतीय संविधान सभा की बैठक के दौरान अपनाया गया था। यह बैठक 15 अगस्त, 1947 को अंग्रेजों से भारत की स्वतंत्रता के कुछ दिन पूर्व ही हुई थी। इसे 15 अगस्त, 1947 और 26 जनवरी 1950 के बीच भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाया गया और इसके पश्चात् भारतीय गणतंत्र ने इसे स्वीकार किया। भारत में तिरंगे’ का अर्थ भारतीय ‘राष्ट्रीय ध्वज’ है।

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज में तीन रंग की क्षैतिज पट्टियां हैं सबसे ऊपर केसरिया, बीच में सफेद और नीचे गहरे हरे रंग की पट्टी, ये तीनों समानुपात में हैं। ध्वज को चौड़ाई का अनुपात इसकी लंबाई के साथ 2 और 3 का है। सफेद पट्टी के मध्य में गहरे नीले रंग का एक चक्र है। यह चक्र अशोक को राजधानी सारनाथ में सिंह स्तंभ पर बना हुआ है। इसका व्यास लगभग सफेद पट्टी की चौड़ाई के बराबर होता है। इसमें 24 तीलियां हैं।

यह जानना अत्यंत रोचक है कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज अपने आरंभ से आज तक किन परिवर्तनों से गुजरा इसे हमारे स्वतंत्रता के राष्ट्रीय संग्राम के दौरान खोजा गया या मान्यता दी गई। इसे आज के इस रूप में पहुंचने के लिए अनेक दौरों से गुजरना पड़ा अर्थात् हमारे राष्ट्रीय ध्वज के विकास में जो कुछ महत्त्वपूर्ण ऐतिहासिक पड़ाव आए। वे इस प्रकार हैं प्रथम राष्ट्रीय ध्वज 7 अगस्त, 1906 को पारसी बागान चौक (ग्रीन पार्क) कलकत्ता में फहराया गया था, जिसे अब कोलकाता कहते हैं। इस ध्वज को लाल, पीले और हरे रंग की क्षैतिज पट्टियों से बनाया गया था।

यह भी पढ़ें

आम-भारत का राष्ट्रीय फल  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Mango National Fruit of India in Hindi
भारत का राष्ट्रीय प्रतीक पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on National Emblem of India in Hindi
भारत-एक लोकतंत्र देश   पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on India- A Democratic Country in Hindi
भारतीय संस्कृति पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Indian Culture in Hindi
स्वतंत्रता दिवस पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Independence Day in Hindi

200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in English

200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga

Each independent nation has its own flag. This is a sign of its being an independent country. The Indian National Flag was designed by Pingali Vaikayananda and its present form was adopted during the meeting of the Constituent Assembly of India held on 22 July 1947. This meeting took place on August 15, 1947, just a few days before India’s independence from the British. It was adopted as the national flag of India between August 15, 1947, and January 26, 1950, and was subsequently accepted by the Republic of India. The meaning of ‘Tricolor’ in India is the Indian ‘National Flag’.

The Indian national flag has three horizontal stripes of saffron at the top, white in the middle, and dark green at the bottom, all three in proportion. The ratio of the width to the flag with its length is 2 and 3. In the middle of the white stripe is a dark blue circle. This chakra is built on the lion pillar at Sarnath, the capital of Ashoka. Its diameter is approximately equal to the width of the white stripe. It has 24 spokes.

It is very interesting to know that the changes that our national flag has gone through from its inception till date were it discovered or recognized during our national struggle for independence. It had to go through many phases to reach the form it is today i.e. some important historical milestones in the development of our national flag. They are as follows: The first national flag was hoisted on August 7, 1906, at Parsi Bagan Chowk (Green Park) in Calcutta, now known as Kolkata. This flag was made up of horizontal stripes of red, yellow, and green.


मै आशा करती हूँ कि  राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पर लिखा यह निबंध ( राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा   पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on National Flag Tiranga in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.