X

जवाहरलाल नेहरू  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru in Hindi

जवाहरलाल नेहरू  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru in Hindi

जवाहरलाल नेहरू से जुड़े छोटे निबंध जैसे जवाहरलाल नेहरू पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on Jawahar Lal Nehru in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

पं. जवाहरलाल नेहरू का जन्म एक अमीर घराने में हुआ था। इन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा घर में रहकर ही प्राप्त की थी। बाद में उच्च शिक्षा के लिए ये इंग्लैंड गए। वहां से ये एक बैरिस्टर बनकर भारत आए। लेकिन यहां इन्होंने वकालत नहीं की।

नेहरू जी अपने देश को आजाद कराना चाहते थे। उनमें देश भक्ति कूट कूट कर भरी थी। महात्मा गांधी के संपर्क में आने से उनके जीवन में एक महान परिवर्तन हुआ। वे स्वतंत्रता संग्राम में कूद पड़े। उन्हें अनेक यातनाएं सहनी पड़ीं। कई बार उनको जेल भेजा गया जेल में ही उन्होंने एक पुस्तक लिखी-‘सत्य की खोज’, जो बाद में बहुत चर्चित हुई।

सन् 1947 में भारत को स्वतंत्रता मिली। नेहरू जी को प्रथम प्रधानमंत्री चुना गया। इन्होंने देश की गरीबी को दूर करने का प्रयत्न किया। इन्होंने भारत को एक आदर्श लोकतंत्र बनाने का स्वप्न देखा। ये अपना सारा समय देश की समस्याओं को सुलझाने में व्यतीत करते थे। अंतर्राष्ट्रीय समस्याओं के समाधान के लिए इन्होंने अथक प्रयास किया।

संसार में शांति स्थापित करने का इन्होंने प्रयास किया। सारा संसार इनका सम्मान करता था। ‘शांति के दूत’ के रूप में इन्हें पूरे विश्व ने सम्मान दिया। ये बच्चों को बहुत प्यार करते थे। बच्चे इन्हें ‘चाचा नेहरू’ कहते थे। इसीलिए इनके जन्मदिन, 14 नवम्बर को ‘बाल दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

इतिहासकारों का मानना है कि चीन से हुए युद्ध के बाद उनका दिल टूट गया था। उन्होंने चीन को अपना मित्र माना था, लेकिन उसने धोखा दिया। भारतीय सेना के अनेक जवान इस लड़ाई में शहीद हो गए। शायद इसी आधा के कारण 27 मई, 1964 को नेहरू जी का देहांत हो गया। उनकी अंतिम इच्छा के अनुसार उनके शरीर की राख को भारत की मिट्टी में छिड़ककर एकसार कर दिया गया।

यह भी पढ़ें

पीवी नरसिंह राव  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on PV Narsimha Rao in Hindi
अनुशासन का अर्थ  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Meaning of Discipline in Hindi
मदर्स डे  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Mother’s Day in Hindi

200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru in English

200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru

Pt. Jawaharlal Nehru was born in a wealthy family. He received his early education while staying at home. Later he went to England for higher education. From there he came to India as a barrister. But here he did not advocate.

Nehru Ji wanted to free his country. Patriotism was full of them in them. Coming in contact with Mahatma Gandhi brought a great change in his life. He jumped into the freedom struggle. He had to endure many tortures. He was sent to jail several times. He wrote a book in jail – ‘Search for Truth’, which later became very popular.

India got independence in 1947. Nehru was elected the first Prime Minister. He tried to remove the poverty of the country. He dreamed of making India an ideal democracy. He used to spend all his time solving the problems of the country. He worked tirelessly to solve international problems.

He tried to establish peace in the world. The whole world respected him. He was respected by the whole world as a ‘messenger of peace. He loved children very much. The children called him ‘Chacha Nehru’. That is why his birthday, November 14, is celebrated as ‘Children’s Day.

Historians believe that he was heartbroken after the war with China. He considered China as his friend, but he cheated. Many soldiers of the Indian Army were martyred in this battle. Perhaps due to this half, Nehru died on May 27, 1964. According to his last wish, the ashes of his body were made uniform by sprinkling them in the soil of India.


मै आशा करती हूँ कि  जवाहरलाल नेहरू पर लिखा यह निबंध ( जवाहरलाल नेहरू   पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jawahar Lal Nehru in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.