X

जय जवान जय किसान     पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi

जय जवान जय किसान पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi

जय जवान जय किसान से जुड़े छोटे निबंध जैसे जय जवान जय किसान     पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

‘जय जवान जय किसान’ इस नारे में छिपा हुआ है हमारे देश भारत का विकास और उसकी उन्नति का रहस्य यह नारा सन् 1965 में तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री लालबहादुर शास्त्री ने उस समय दिया था, जब हमारे देश की अर्थव्यवस्था लड़खड़ाई हुई थी और पड़ोसी देश पाकिस्तान हमें खंडित करने की हर तरह से कोशिश कर रहा था लेकिन उसे भारत की ‘शांति’ में छिपी उस प्रचंड अग्नि का अंदाजा नहीं था, जो दुश्मन को जलाकर राख कर देती है। उसे अपने हथियारों पर गर्व था। उसे लगता था कि वह आधुनिक हथियारों का प्रयोग करके भारत पर विजय प्राप्त कर लेगा, लेकिन भारतीय सैनिकों की बहादुरी के सामने सब कुछ धरा रह गया। यह इस नारे का ही असर था कि भारतीय सैनिकों ने दुश्मन को हारने के लिए विवश कर दिया। उसे संधि प्रस्ताव पेश करना पड़ा।

यहां शास्त्री जी के व्यक्तित्व के आकलन से संबंधित एक घटना का जिक्र करना जरूरी है। कहते हैं कि सन् 1964 में राष्ट्रमंडल की बैठकों में भाग लेने के लिए लंदन जाते समय रास्ते में ईंधन भरवाने इनके जहाज को कराची उतरना पड़ा। वहां उनकी अगवानी करने आए पाकिस्तान के राष्ट्रपति अयूब खान ने अपने साथी से व्यंग करते हुए पूछा कि क्या यही है जवाहर लाल नेहरू का वारिस?’ अयूब खान को बाद में महसूस हुआ कि उसने छोटे कद-काठी में छिपे एक देशभक्त वीर योद्धा को समझने में भूल की थी।

लालबहादुर शास्त्री ने जिस समय यह नारा दिया, उस समय देश आर्थिक तंगी का भी सामना कर रहा था। इस तरह किसानों के मनोबल को बढ़ाने वाले इस नारे ने देश के उन दो वर्गों के मनोबल को ऊर्जा दी, जिन पर देश की आर्थिक उन्नति, विकास और सुरक्षा टिकी हुई है। इसीलिए इसे कुछ लोग ऐसा दिशाक्षर मंत्र मानते हैं, जो देश को हर तरह से समृद्ध बनाने वाला है।

भारत-एक लोकतंत्र देश   पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on India- A Democratic Country in Hindi
भारतीय संस्कृति    पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Indian Culture in Hindi
स्वतंत्रता दिवस पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Independence Day in Hindi

200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in English

200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan

The secret of development and progress of our country India is hidden in this slogan ‘Jai Jawan Jai Kisan’, this slogan was given by the then Prime Minister Shri Lal Bahadur Shastri in 1965 when the economy of our country was faltering and the neighboring country Pakistan He was trying in every way to break us, but he had no idea of ​​the fierce fire hidden in the ‘peace’ of India, which burns the enemy to ashes. He was proud of his weapons. He thought that he would conquer India by using modern weapons, but everything fell in front of the bravery of the Indian soldiers. It was because of this slogan that Indian soldiers forced the enemy to defeat. He had to present a treaty proposal.

Here it is necessary to mention an incident related to the assessment of the personality of Shastri ji. It is said that in 1964, while on his way to London to attend the Commonwealth meetings, his ship had to land in Karachi for refueling. The President of Pakistan, Ayub Khan, who had come to receive him, asked his companion, sarcastically, is this the heir of Jawaharlal Nehru?’ Ayub Khan later realized that he had misunderstood a patriotic brave warrior hiding in his short stature.

At the time when Lal Bahadur Shastri gave this slogan, at that time the country was also facing a financial crisis. In this way, this slogan, which boosted the morale of the farmers, gave energy to the morale of those two sections of the country, on which the economic progress, development, and security of the country rest. That is why some people consider it as such a direction mantra, which is going to make the country prosperous in every way.


मै आशा करती हूँ कि  जय जवान जय किसान     पर   पर लिखा यह निबंध ( जय जवान जय किसान    पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calendar Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

जय जवान जय किसान     पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Jai Jawan Jai Kisaan in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.