X

होली पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Holi in Hindi

होली पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Holi in Hindi

होली  से जुड़े छोटे निबंध जैसे होली पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Holi in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on Holi in Hindi for Class 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

होली पर्व का संदेश है-भूलो और क्षमा करो। हमारा इतिहास इस बात का गवाह है कि इस दिन ऊंच-नीच के सारे भेद मिट जाते हैं। उत्साह, मस्ती और रंगों में केवल मनुष्य होने की पहचान ही शेष रह जाती है।

फाल्गुनी पूर्णिमा की रात्रि में होलिका दहन होता है। पौराणिक गाथाओं के अनुसार इसका संबंध होलिका के अग्नि में जलने के साथ है। होलिका प्रहलाद की बूआ थी। इस पर्व का संबंध वैदिक यज्ञ से भी है। इसीलिए इस दिन नई फसल की बालियों की आहुति दी जाती है। बच्चे-बूढ़े सभी प्रसन्नतापूर्वक अगले दिन सुबह से ही आपस में रंग-गुलाल लगाने जाते हैं। इस दिन एक-दूसरे को पकवान और मिठाइयां खाई खिलाई जाती हैं।

होलिकोत्सव के लिए कई दिन पहले से बच्चे लकड़ी और कडे एकत्रित करते हैं। एक माह पूर्व होली का डांडा गाड़ा जाता है। इस त्योहार का संबंध खेती से भी है। इस समय तक गेहूं और चने की फसल अधपकी तैयार हो जाती है। किसान इसे पहले अग्नि देवता को समर्पित कर फिर प्रसादस्वरूप स्वयं ग्रहण करता है। नई फसल आने की खुशी में किसान ढोलक, डफली और छैने बजाकर, नाच-गाकर समां बांध देते हैं। रंग के साथ ही राधा-कृष्ण के प्रेम भरे गीतों से समूचा वातावरण सराबोर रहता है।

इन दिनों इस त्योहार का महत्त्व कम होता जा रहा है। मस्ती का स्थान हुड़दंग ने ले लिया है। मेल-जोल के नाम पर स्वार्थ साधने की भूमिका तैयार की जाती है। दिखावा और प्रदर्शन इतना बढ़ गया है कि एक-दूसरे को नीचा दिखाने की होड़ लग गई है। भेंट-उपहार अपनों में बांटे जाते हैं। कभी-कभी तो प्रेम के नाम पर ईर्ष्या का रंग वातावरण को अपनी कालिमा से शर्मिंदा तक कर देता है। तब शक होता है कि होलिका और हिरण्यकश्यप अभी मरे नहीं हैं, उन्होंने बस अपना रूप बदल लिया है। लेकिन हमें ध्यान रखना चाहिए कि आखिर में जीत आस्था, भक्ति, प्रेम तथा भाईचारे की ही होती है।

गंगा नदी  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on River Ganaga in Hindi
भगवान महावीर  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on God Mahaveer in Hindi
चाय  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Tea in Hindi
हॉकी-भारत का राष्ट्रीय खेल  पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Hockey-National Game of India in Hindi

200-300 Words Essay speech on Holi in English

200-300 Words Essay speech on Holi

The message of the Holi festival is – forget and forgive. Our history is a witness to the fact that on this day all the distinctions of high and low are erased. In excitement, fun, and colors, only the identity of being human remains.

Holika Dahan takes place on the night of Phalguni Purnima. According to mythology, it is associated with the burning of Holika in the fire. Holika was Prahlad’s aunt. This festival is also related to Vedic Yagya. That is why on this day the earrings of the new crop are sacrificed. Children and old people happily go to apply colors and gulal among themselves from the next morning onwards. On this day dishes and sweets are fed to each other.

Children collect wood and sticks several days in advance for Holikotsav. One month before Holi, the stick is buried. This festival is also related to agriculture. By this time the wheat and gram crops are half-ripened. The farmer first dedicates it to the god of fire and then himself accepts it as prasad. In the joy of the arrival of the new crop, the farmers tie the knot by playing dholak, dafli, and chhene, dancing, and singing. Along with the colors, the whole atmosphere is drenched with the love songs of Radha-Krishna.

These days the importance of this festival is decreasing. Hurdang has taken the place of fun. The role of selfishness is prepared in the name of rapprochement. The show and performance have increased so much that there is a competition to demean each other. Gifts and gifts are distributed among loved ones. Sometimes, in the name of love, the color of jealousy makes the environment even ashamed of its blackness. It is then suspected that Holika and Hiranyakashipu are not dead yet, they have just changed their form. But we should keep in mind that in the end, the victory is of faith, devotion, love, and brotherhood.

मै आशा करती हूँ कि  होली पर   पर लिखा यह निबंध ( होली पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Holi in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calender Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.