X

दशहरा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Dussehra in Hindi

दशहरा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Dussehra in Hindi

दशहरा से जुड़े छोटे निबंध जैसे दशहरा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण  स्कूल में कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11,और 12 में  पूछे जाते है। इसलिए आज हम  200-300 Words Essay speech on Dussehra in Hindi के बारे में बात करेंगे ।

200-300 Words Essay, speech on Dussehra in Hindi 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12

दशहरा हिंदुओं का एक प्रसिद्ध धार्मिक त्योहार है। यह आश्विन मास को शुक्ल पक्ष को दशमी के दिन मनाया जाता है। इसे विजया दशमी भी कहते हैं। इस दिन श्रीरामचंद्र ने लंका पर विजय प्राप्त कर माता सीता को रावण को कैद से छुड़ाया था। मान्यता है कि रावण के दस सीस थे, जो उसे शिव से वरदान के रूप में प्राप्त हुए थे। ये सिर युद्ध भूमि में कटने के बाद भी फिर से उग जाते थे। इसीलिए उसे हराना असंभव था। उन दसों सिरों का श्रीराम ने हरण कर लिया था, इसलिए इस दिन को ‘दशहरा’ के नाम से प्रसिद्धि मिली।

दशहरे से 9-10 दिन पूर्व गांव-गांव, शहर-शहर में खुले मैदानों, पार्कों में मंच बनाकर रात को रामलीला का मंचन किया जाता है। मर्यादा पुरुषोत्तम राम के जन्म से लेकर लंका दहन तक की सभी घटनाओं को लोला के रूप में दिखाया जाता है। गांववालों के लिए यह मनोरंजन तो है हो, धार्मिक प्रेरणा का सशक्त माध्यम भी है। इस दिन अनेक स्थानों पर मेलों का आयोजन किया जाता है।

दशहरे के दिन सायंकाल को भगवान राम की सवारी निकाली जाती है, जो मुख्य बाजारों में से होती हुई खुले मैदान में पहुंचती है, जहां कागज, बांस आदि से निर्मित रावण, मेघनाद और कुंभकरण के ऊंचे-ऊंचे पुतले बनाकर उन्हें आग लगा दी जाती है। हजारों लोग यहां एकत्रित होते हैं और खुशियां मनाते हैं।

कुछ स्थानों पर अपनी परंपरा के अनुसार इस दिन शस्त्र पूजा भी की जाती है। इसीलिए यह भी मान्यता है कि यह विशेष रूप से क्षत्रियों अर्थात् सैनिक योद्धाओं का त्योहार है।

इस त्योहार से हमें शिक्षा मिलती है कि हम राम जैसे पुत्र और राजा बने तथा भरत जैसे भाई व हनुमान जैसे सेवक। यह त्योहार असत्य पर सत्य को, पाप पर पुण्य की, अधर्म पर धर्म की एवं बुराई पर अच्छाई को विजय का भी प्रतीक है।

यह भी पढ़ें

छत्रपति शिवाजी  200 – 300 शब्दों में  निबंध, भाषण – 200-300 Words Essay speech on Chatrapati Shivaji in Hindi
क्रिसमस पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Christmas in Hindi
दीपावली पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Deepawali in Hindi
भ्रष्टाचार पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण – 200-300 Words Essay speech on Corruption in Hindi

200-300 Words Essay speech on Dussehra in English

200-300 Words Essay speech on Dussehra

Dussehra is a famous religious festival of Hindus. It is celebrated on the tenth day of Shukla Paksha in the month of Ashwin. It is also called Vijaya Dashami. On this day Sri Ramachandra had conquered Lanka and rescued Mother Sita from Ravana’s captivity. It is believed that Ravana had ten sis, which he received from Shiva as a boon. These heads grew again even after being cut on the battlefield. That’s why it was impossible to defeat him. Shri Ram had abducted those ten heads, so this day should be known as ‘Dussehra’.

9-10 days before Dussehra, Ramlila is staged at night by making a stage in open fields and parks in village-village, city-city. All the events from the birth of Maryada Purushottam Rama to the burning of Lanka are shown in the form of Lola. It is not only entertainment for the villagers, it is also a powerful medium of religious inspiration. Fairs are organized at many places on this day.

On the day of Dussehra, Lord Rama’s ride is taken out in the evening, which reaches the open ground through the main markets, where high-rise effigies of Ravana, Meghnad, and Kumbhakaran made of paper, bamboo, etc. are set on fire. . Thousands of people gather here and celebrate.

In some places, according to their tradition, weapon worship is also done on this day. That is why it is also believed that this is especially the festival of Kshatriyas i.e. military warriors.

This festival teaches us that we should become sons and kings like Rama and brothers like Bharata and servants like Hanuman. This festival also symbolizes the victory of truth over falsehood, virtue over sin, religion over unrighteousness and good over evil.


मै आशा करती हूँ कि  दशहरा पर   पर लिखा यह निबंध ( दशहरा पर  200 – 300 शब्दों में  निबंध,भाषण । 200-300 Words Essay speech on Dussehra in Hindi ) आपको पसंद आया होगा I साथ ही साथ आप यह निबंध/लेख अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरूर साझा ( Share) करेंगें I

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सैकण्डरी एजुकेशन की  नई ऑफिशियल वेबसाईट है : cbse.nic.in. इस वेबसाईट की मदद से आप सीबीएसई बोर्ड की अपडेट पा सकते हैं जैसे परिक्षाओं के रिजल्ट, सिलेबस,  नोटिफिकेशन, बुक्स आदि देख सकते है. यह बोर्ड एग्जाम का केंद्रीय बोर्ड है.

संघ लोक सेवा आयोग का एग्जाम कैलेंडर {Exam Calender Of -UNION PUBLIC COMMISSION (UPSC) लिंक/Link

नमस्कार , मेरा नाम अंजू वर्मा है | मै उत्तर प्रदेश के छोटे से गाँव से हूँ | मै हिंदी भाषा में पोस्ट ग्रेजुएट हूँ| हिंदी साहित्य में मेरा जुड़ाव बचपन से ही रहा है इसीलिए मैंने परास्नातक के लिये हिंदी को ही एक विषय के रूप में चुना |अंग्रेजी के इस दौर में जहाँ हिंदी एक स्लोगन बनता जा रहा है जबकि जनसँख्या का एक बड़ा हिस्सा हिंदी भाषी है |लेकिन हम अंग्रेजी बोंलने को एक हाई सोसाइटी से जुड़ाव का माध्यम मानने लगे हैं | मुझे कुकिंग, घूमने एवम लिखने का शौक है मै ज्यादातर हिंदी भाषा , मोटिवेशनल कहानी, और फेमस लोगों के बारे में लिखती हूँ |

This website uses cookies.